शुक्रवार, जनवरी 28

सलाम साथियों

सलाम साथियों
जैसा की आप सभी जानते है की बचपन के रंग के द्वारा हम अपने मन की बात आप सभी तक पहचानें की कोशिश करते है इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए, बचपन के रंग ने अपनी एक पत्रिका २६ जनवरी से शुरु की है. पत्रिका निकालने की सोच पनकी पड़ाव के अपना स्कूल से शुरु हुई और वहीं से इसकी शुरुवात हुई.
नीचे कुछ फोटो है आप जरुर देखे.

 

...............धन्यवाद



1 टिप्पणी:

  1. बहुत अच्छी शुरुआत,बचपन के रंग को ढेरों बधाई और शुभकामनाये !अपना स्कूल के सभी बच्चों को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाये |

    उत्तर देंहटाएं